गन्ना विकास परिषदें

गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग

आर० के० वी० वाई०

  महत्वपूर्ण व्यक्ति
श्री संजय भूसरेड्डी

आयुक्त, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, उ० प्र०

आर० पी० यादव

अपर गन्ना आयुक्त (विकास)

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना अन्तर्गत निम्नलिखित कार्यक्रम प्रस्तावित है :

1 अभिजनक गन्ना बीज उत्पादन कायक्रम यह कार्यक्रम उ.प्र. गन्ना शोध परिषद शाहजहांपुर द्वारा संचालित है, तथा बीज उत्पादन हेतु 40,000 रू. प्रति हे. की दर से अनुदान की व्यवस्था है।
2 आधार पौधशाला बीज वितरण आधार पौधशाला में उत्पादित बीज का वितरण करने पर पौधशाला-धारक को रू. 50 प्रति कु. अनुदान दिया जाता है।
3 प्राथमिक पौधशाला बीज वितरण प्राथमिक पौधशाला में उत्पादित बीज का वितरण करने पर पौधशाला-धारक को रू. 25 प्रति कु. अनुदान दिया जाता है।
4 क्षेत्र प्रदर्शन क्षेत्र प्रदर्शन धारक कृषक रू. 15000 प्रति हे. की दर से अनुदान दिया जाता है।
5 माईक्रोन्यूट्रियेन्ट माईक्रोन्यूट्रियेन्ट हेतु लागत का 50 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू. 500 प्रति हे. की दर से अनुदान दिया जाता है।
6 कृषि यन्त्र वितरण मानव चालित यंत्र हेतु लागत का 50 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू. 500 अुनदान दिया जाता है।
पशु चालित यंत्र हेतु लागत का 50 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू. 2500 अुनदान दिया जाता है।
ट्रैक्टर चालित यंत्र हेतु लागत का 50 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू. 30,000 अुनदान दिया जाता है।
7 उत्पादकता पुरस्कार सर्वाधिक गन्ना उत्पादन करने वाले कृषकों को जनपद स्तर पर रू. 25,000 का प्रथम पुरस्कार तथा रू. 15000 का द्वितीय पुरस्कार पौधे एवं पेड़ी गन्ने हेतु दिया जाता है।
सर्वाधिक गन्ना उत्पादन करने वाले कृषकों को राज्य स्तर पर रू. 50,000 का प्रथम पौधे एवं पेड़ी गन्ने हेतु दिया जाता है।
8 किसान गोष्ठी/किसान मेला प्रति जनपद रू. 1,00000 की व्यवस्था है।
9 प्रशिक्षण गन्ना किसान संस्थान द्वारा गन्ना कृषकों एवं विभागीय अधिकारियों/कर्मचारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम हेतु प्रति प्रशिक्षण रू. 17000 की व्यवस्था है।
10 ड्रिप इरीगेशन संयंत्र ड्रिप इरीगेशन संयंत्र स्थापित करने हेतु कृषकों को रू. 50,000 प्रति हे. की दर से राजकीय अनुदान की व्यवस्था है।